AWD vs. 4WD What's the Difference-min

एक समय था जब AWD/4WD आर्मी ट्रक्स या फुल साइज़ एसयूवी में ही देखने को मिलते थे लेकिन अब समय बदल गया है अब इंडिया में लोग सेडान और हैचबैक को छोडके एसयूवी की तरफ जा रहे है और अगर आप ऑफ रोड एडवेंचर के लिए एसयूवी खरीदना चाहते है तो आपके सामने AWD और 4WD का आप्शन आता है तो आज हम आपको AWD और 4WD के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे है इस आर्टिकल के बाद आप जान सकते है कि AWD और 4WD के बीच का अंतर क्या है और कौन होगा आपके लिए बेस्ट आप्शन-

What is all-wheel drive (AWD)?

ऑल-व्हील-ड्राइव वाहन, जैसा कि नाम से पता चलता है, सिस्टम जो आगे और पीछे के पहियों को पॉवर प्रदान करते हैं। ऑल-व्हील-ड्राइव सिस्टम दो प्रकार के हैं जो ध्यान देने योग्य हैं-

All Time Full-time AWD– पहले टाइप को आल टाइम फुल टाइम AWD कहते है इस सिस्टम में इस सिस्टम में आगे और पीछे दोनों एक्स़ल पर पॉवर ट्रांसमिट की जाती है

Part-time AWD or automatic AWDजिसे अंशकालिक ऑल-व्हील-ड्राइव या स्वचालित AWD सिस्टम के रूप में संदर्भित किया जाता है, केवल आवश्यक होने पर AWD का उपयोग करता है। ज्यादातर समय, ये पार्ट-टाइम सिस्टम टू-व्हील-ड्राइव मोड में होते हैं (जो ईंधन की बचत कर सकते हैं), AWD पर तभी स्विच किया जाता है जब ट्रैक्शन की आवश्यकता होती है।

How Does All-Wheel Drive Work?

आल व्हील ड्राइव पॉवर ट्रेन में चाहे वो All Time Full-time AWD सिस्टम हो चाहे Part-time AWD or automatic AWD पॉवर ट्रेन सिस्टम हो आम तौर पर चालक से बिना किसी इनपुट के काम करते हैं। फुल-टाइम सिस्टम के साथ, हर समय सभी चार पहियों पर पॉवर और टॉर्क भेजा जाता है। पार्ट-टाइम एडब्ल्यूडी के साथ, सामान्य ड्राइविंग के दौरान पॉवर को आम तौर पर फ्रंट या रियर एक्सल को भेजा जाता है। इसमें एक सेंसर यह निर्धारित करते हैं कि क्या अतिरिक्त टार् की आवश्यकता है, जैसे कि जब बारिश, बर्फ या जमीन पर कीचड़ हो और फिर, Part-time AWD or automatic AWD दोनों को पॉवर भेजता है।

Pros of AWD

  • बारिश और फिसलन वाली सतहों पर बेहतर ट्रैक्शन- जो ड्राइवर बारिश या बर्फ में अक्सर यात्रा करते हैं, उन्हें AWD से कुछ बेहतरीन लाभ दिखाई देंगे। यह आपको विषम परिस्थितियों में वाहन का बेहतर नियंत्रण देता है
  • स्पोर्ट्स कारों में बेहतर प्रदर्शन-इसके अलावा, कुछ स्पोर्ट्स कारें प्रदर्शन को बढ़ावा देने के लिए AWD सिस्टम का उपयोग करती हैं। AWD स्पोर्ट्स कार को एक्सीलीरेट करने ज्यादा ट्रैक्शन प्रदान करता है, परिणामस्वरूप तेजी से लॉन्च और कॉर्नरिंग हो सकता है।
  • 4WD उपयोग करने में आसान- AWD उपयोगकर्ता के अनुकूल है, क्योंकि इसमें आमतौर पर ड्राइवरों से इनपुट की आवश्यकता नहीं होती है।

Cons of AWD

  • FWD और RWD की तुलना में सबसे खराब माईलेज- क्योंकि उनके ड्राइवट्रेन में अधिक भाग होते हैं और उनका वजन अधिक होता है, AWD वाहन अपने दो-पहिया-ड्राइव (2WD) समकक्षों की तुलना में खराब माइलेज देते हैं, और यह लंबी अवधि में आपकी ईंधन लागत को बढ़ा सकता है।
  • 4WD की तरह प्रभावी ऑफ रोड नहीं- 4WD से तुलना करने पर, AWD ऑफ-रोड स्थितियों में उतना प्रभावी नहीं है। AWD बारिश से लेकर बर्फ़ से लेकर हल्की ऑफ-रोडिंग तक कई तरह की परिस्थितियों में अच्छा काम करने में सक्षम है, लेकिन आमतौर पर यह ऑफ-रोडर्स 4WD की तरह प्रभावी नही है।

भारत में AWD वाली कार्स-

  • Mahindra XUV700
  • Volvo XC90
  • Mercedes-Benz GLA

What is 4 wheel drive (AWD)?

फोर-व्हील ड्राइव, जिसे 4×4 या 4WD भी कहा जाता है, एक ऐसा सिस्टम है जो एक साथ अपने सभी पहियों को पॉवर और टॉर्क डिलीवर करता है। लेकिन AWD और फोर-व्हील ड्राइव के बीच का अंतर यह है की फोर-व्हील ड्राइव में ड्राईवर के पास कण्ट्रोल रहता है, कि उसे दो पहियों में पॉवर सप्लाई करनी है या चारो व्हील्स में। यहाँ ध्यान देने वाली बात यह है कि 4WD में फ्रंट एक्सेल को कनेक्ट और डिसकनेक्ट करने का आप्शन रहता है।

How Does Four-Wheel Drive Work?

बात करे फोर-व्हील ड्राइव, जिसे 4×4 या 4WD भी कहा जाता है, इसके वर्किंग की तो इस ड्राइवट्रेन सिस्टम में सभी पहियों को पॉवर और टॉर्क डिलीवर करता है। यहाँ ध्यान देने वाली बात यह है कि 4WD में फ्रंट एक्सेल को कनेक्ट और डिसकनेक्ट करने का आप्शन रहता है। इस सिस्टम में इजन से पॉवर क्लच से होते हुए गियरबॉक्स में जाता है, इसके बाद आगे ट्रान्सफर केस से होते हुए अगले और पिछले एक्सेल में जाती है। यहाँ ड्राईवर के पास एक लीवर रहता है जिससे वह फ्रंट एक्सेल को कनेक्ट और डिसकनेक्ट किया जा सकता है।

Pros of 4WD

  • AWD से बेहतर ऑफ रोडर– 4WD का लाभ ऑफ-रोड स्थितियों में अच्छा प्रदर्शन करने की इसकी क्षमता है।
  • बेहतर माइलेज- इसमें आपको फ्रंट एक्सेल को कनेक्ट और डिस्कनेक्ट करने का आप्शन रहता है इसलिए इसमें आपको बेहतर माइलेज मिलता है

Cons of 4WD

  • अधिक महंगा– AWD की अपेक्षा में 4WD ज्यादा महगा होता है
  • ईंधन की खपत में वृद्धि- 4WD ड्राइवट्रेन में अगर आप दोनों एक्सेल को कनेक्ट करते ड्राइव करते है तो ईंधन की खपत में वृद्धि होती है

भारत में 4WD वाली कार्स-

  • Mahindra Thar
  • Force Gurkha
  • Isuzu D-Max V-Cross

AWD vs 4WD कौन सी आपको लेना चाहिए-

अब यहाँ पर प्रश्न आता है कि आपको AWD और 4WD कार्स में आपको कौन सी लेनी चाहिए?

अगर आप सिटी के साथ साथ कभी-कभी ऑफ-रोडिंग भी करते है तो 4WD आपके लिए सही होगी क्युकी इसमें फ्रंट एक्सेल को कनेक्ट और डिसकनेक्ट किया जा सकता है इसलिए आप इसे अपनी जरूरत के अनुसार अगर सिटी में है तो फ्रंट एक्सेल को डिसकनेक्ट करके बेहतर माईलेज निकाल सकते है। लेकिन अगर आपको बरसात और बर्फीली परिस्थितियों में ज्यादा ड्राइविंग करना है तो आप AWD का आप्शन चुन सकते है क्युकी AWD में 4WD की तुलना में ज्यादा ट्रैक्शन प्रदान करता है इसलिए यदि आप मुख्य रूप से गीली या बर्फीली सड़कों पर ड्राइविंग करते हैं, तो AWD काम पूरा कर लेता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *